पॉलिटेक्निक क्या है? (Polytechnic In Hindi)

पॉलिटेक्निक क्या है? - Polytechnic In Hindi

अक्सर आपके दोस्त या आपके परिवार वाले पॉलिटेक्निक करने की सलाह देते हैं स्टूडेंट की मन में पॉलिटेक्निक का नाम सुनते ही बहुत सारे सवाल आते हैं पॉलिटेक्निक क्या हैं? (what is polytechnic) इस पॉलिटेक्निक कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है और इस कोर्स को करने के लिए कितनी योग्यता चाहिए और एडमिशन कैसे लेना होगा और इसके फायदे क्या-क्या है इसके बारे में पूरी जानकारी आपको मिलेगी तो पॉलिटेक्निक एक बहुत ही लोकप्रिय डिप्‍लोमा कोर्स है जिसे करने के बाद आप आसानी से अपनी इंटरेस्ट के फील्ड में पढ़ाई करके जॉब कर सकते हैं। 

पॉलिटेक्निक क्या है?

पॉलिटेक्निक एक बहुत ही लोकप्रिय डिप्‍लोमा कोर्स है इस कोर्स को 10वीं और 12वीं पास करने के बाद कर सकते है। इस कोर्स की मदद से आप किसी भी फील्ड में चाहे मैकेनिकल इंजीनियरिंग हो या फिर सिविल इंजीनियरिंग हो यानि इंजीनियरिंग के किसी भी फील्ड में कोर्स करना चाहते हो तो आप ये पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हो। 

यह पॉलिटेक्निक कोर्स 3 साल का होता है। इस कोर्स का खासियत यह है कि इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप डायरेक्ट डिग्री के लिए B.Tech Second Year में एडमिशन ले सकते हैं। 

पॉलिटेक्निक में एडमिशन कैसे ले?

पॉलिटेक्निक के अंदर में बहुत सारे कोर्स होते हैं आप अपने हिसाब से कोर्स का चुनाव कर सकते हैं पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए प्रवेश परीक्षा पास करना होता है और आपको अच्छे नंबर से पास करना होगा तभी आपको एक अच्छा पॉलिटेक्निक कॉलेज में एडमिशन मिल सकता हैं वरना आपको किसी प्राइवेट पॉलिटेक्निक कॉलेज में एडमिशन लेना होगा जिसकी जो फ़ीस बहुत ज्यादा होती हैं प्राइवेट कॉलेज में करीब प्रति सेमेस्टर 20000 से 35000 के बीच होती है जबकि गवर्नमेंट कॉलेज प्रति सेमेस्टर 10000 से 15000 के बीच होती है। तो कोशिश कीजिए ज्यादा स्कोर लाने की जिससे कि आपको एक अच्छा गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज मिल जाए। 

पॉलिटेक्निक का मतलब क्या होता है?

पॉलिटेक्निक का मतलब क्या होता है – सामान्य रूप से पॉलिटेक्निक (Polytechnic) दो शब्दों Poly और Technic से मिलकर बना है। Poly का मतलब होता है बहुत सारे Technic का मतलब आपको प्रैक्टिकल तरह से सिखाना। 

पॉलिटेक्निक कोर्स लिस्ट 

  • कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में डिप्लोमा 
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • मार्केटिंग मैनेजमेंट में स्नातक प्रमाणपत्र पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा व्यवसाय प्रशासन में डिप्लोमा 
  • कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • एनिमेशन, कला और डिजाइन में डिप्लोमा 
  • होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा 
  • अकांउटिंग में डिप्लोमा 
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा केमिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • वैमानिकी इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कृषि इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • विमान रखरखाव में डिप्लोमा 
  • वास्तुकला सहायकता में डिप्लोमा कला और शिल्प में डिप्लोमा 
  • इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • एवियोनिक्स में डिप्लोमा 
  • बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • सिरेमिक इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • केमिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा वाणिज्यिक अभ्यास में डिप्लोमा 
  • डेयरी इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • पर्यावरण इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • फैशन डिजाइनिंग और परिधान प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा 
  • फैशन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • ग्लास और सिरेमिक इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • गृह विज्ञान में डिप्लोमा सूचना प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा 
  • इंस्ट्रुमेंटेशन और नियंत्रण में डिप्लोमा 
  • इंस्ट्रुमेंटेशन और कंट्रोल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • इंटीरियर डेकोरेशन और डिजाइन में डिप्लोमा 
  • पुस्तकालय और सूचना विज्ञान में डिप्लोमा 
  • खनन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • पेंट टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा फार्मेसी में डिप्लोमा 
  • प्लास्टिक और मोल्ड प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा 
  • प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा 
  • प्रोडक्शन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • वस्त्र रसायन विज्ञान में डिप्लोमा 
  • टेक्सटाइल डिजाइन में डिप्लोमा 
  • टेक्सटाइल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा 
  • वस्त्र प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा।

10वीं/12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स

पॉलिटेक्निक का कोर्स 10वीं/12वीं पास करने के बाद कर सकते हैं भारत के सभी राज्य में प्रतेक वर्ष पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा का फॉर्म निकाला जाता है । 

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा में क्लास 10वीं लेवल का MCQ पूछे जाते हैं गणित और विज्ञान विषय से ,पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा को पास करने के बाद आपको काउंसलिंग में बुलाया जाएगा, काउंसलिंग में एडमिशन की प्रक्रिया होती है आपको अपने स्कोर के हिसाब से कॉलेज का चुनाव करने दिया जाएगा आप अपने हिसाब से कॉलेज का चुनाव कर सकते हैं। 

पॉलिटेक्निक की पढाई पुरी करे

एडमिशन की प्रक्रिया खत्म होने के बाद आपको कॉलेज जाना होगा जिस प्रकार से स्कूल जाते है उसी प्रकार से आपको कॉलेज जाना होगा आपने जो भी कोर्स का चुनाव किया होगा वह पढ़ाया जाएगा और और ध्यान रहे आपका जो भी परीक्षा लिया जाएगा प्रत्येक परीक्षा पास करना होगा जिससे कि आपको आगे चलकर एक अच्छा जो भी नौकरी मिले। 

इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें

आपकी पॉलिटेक्निक पढ़ाई पूरी होने के बाद कंपनी आती है आपके नौकरी देने के लिए, आपको इंटरव्यू क्लियर करना होगा अगर अपने अच्छे से पढ़े होगे तो आप इंटरव्यू को बहुत ही आसानी से क्लियर कर सकते हैं इंटरव्यू जैसे क्लियर करेंगे आपको कंपनी में जॉब दे दिया जाएगा। 

बहुत सारे लोगों के मन में सवाल होता है कि पॉलिटेक्निक की पढ़ाई पुरी करने के बाद आगे क्या करें इसके बाद आप डायरेक्ट B.Tech (Engineering) Second Year में एडमिशन ले सकते यह इंजीनियरिंग डिग्री है। 

आशा करते हैं कि आज के लेख में जो हमने आपको बताया कि पॉलिटेक्निक क्या होता है? अगर आपको हमारी जानकारी पसंद आई है या कुछ सीखने को मिला तो इसको अपने सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं धन्यवाद !

3 Comments

Leave a Comment

error: Content is protected !!